काव्य संकलन - राजवीर त्यागी
    संकल्प, सार्थक एवम अक्षय प्रयास "दिवंगत श्री राजवीर त्यागी की यादो को जीवित रखने का"





काव्य संकलन - राजवीर त्यागी

कविता - खोयी पहिचान की तलाश

अब नहीं मालूम
खुद मुझको मेरा अस्तीत्व
मेरी चेतना
लॉटरी और धुप
राशन की किरासन की
दुकानो मैं,
कही गम हो गई हो
और मुझे क्या सभी से
कौम से , परिवेश से
और देश से
पहिचान उसकी खो गई है ।